उत्तराखण्डपिथौरागढ़उत्तराखंड: पिथौरागढ़ में पहाड़ी का हिस्सा गिरने के कारण राष्ट्रिय राजमार्ग बन्द,...

उत्तराखंड: पिथौरागढ़ में पहाड़ी का हिस्सा गिरने के कारण राष्ट्रिय राजमार्ग बन्द, फंसे यात्री.

पिथौरागढ़ में स्थानीय लोगों सहित 40 यात्री वहीं फंस गए हैं। मार्ग बंद होने से तवाघाट लिपुलेख राष्ट्रीय राजमार्ग शुक्रवार देर शाम नजंग ताम्बा गांव के पास बंद हो गया.

यहां एक पहाड़ी का बड़ा हिस्सा गिरने से नेशनल हाईवे बंद हो गया। आदि कैलाश मानसरोवर यात्रा मार्ग जो नजंग तंबा गांव से होकर जाता है, बंद होने से स्थानीय लोगों सहित 40 यात्री वहीं फंस गए हैं।

चीन सीमा को जोड़ने वाले तवाघाट लिपुलेख हाईवे पर लखनपुर और नजंग के बीच पहाड़ी दरकने से भूस्खलन हुआ है। इस कारण सड़क यातायात के लिए फिर बंद हो गई है।

चीन सीमा के निकटवर्ती गांवों का जिला मुख्यालय से संपर्क कट गया है। चीन सीमा को जोड़ने वाली यह सड़क पिछले दिनों मलघाट में भी भूस्खलन के कारण बंद हो गई थी।

जिस समय नजंग ताम्बा गांव के पास पहाड़ गिरा वहां अनेक यात्री मौजूद थे। यात्रियों ने अपने सामने पहाड़ को हाईवे के ऊपर गिरते देखा।

अच्छी बात ये है कि इस लैंडस्लाइड में कोई जनहानि नहीं हुई। लैंडस्लाइड से यात्रियों को बहुत परेशान हो रही है। नेशनल हाईवे बंद होने के कारण इस मार्ग पर स्थानीय लोगों समेत 40 यात्री फंसे हुए हैं। पहाड़ी जैसे ही ढही पूरा इलाका धूल के गुबार से भर गया।

इसके साथ ही भारी मलबे से राष्ट्रीय राजमार्ग बंद हो गया। मौके पर मौजूद लोग इस दौरान डरे सहमे हुए थे। लोगों ने किसी तरह भागकर अपनी जान बचाई।

तवाघाट लिपुलेख राष्ट्रीय राजमार्ग बंद होने से व्यास घाटी समेत सात गांवों का संपर्क पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय से कट गया है।

संबंधित खबरें

प्रमुख खबरें

जरूर पढ़ें

spot_img

वायरल खबरें