कांग्रेस हाईकमान सख्ती के बाद नरम पड़े सिद्धू के तेवर

0
672

अवनीत हुंज़न।… नवजोत सिंह सिद्धू के तेवर अब नरम पड़ते नज़र आ रहे हैं। पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ से मुलाक़ात के बाद उन्होंने कहा है कि इस बात पर कोई दो राय नहीं है कि राज्य में कांग्रेस का चेहरा कैप्टन अमरिंदर सिंह ही हैं। उधर पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत भी चंडीगढ़ पहुंच चुके हैं।

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी की सख्ती के बाद अब नवजोत सिंह सिद्धू के तेवर नरम पड़ते नज़र आ रहे हैं। पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़ से मुलाक़ात के बाद सिद्धू ने कहा है कि राज्य में कांग्रेस का चेहरा कैप्टन अमरिंदर सिंह ही हैं और अगर किसी तरह के मतभेद भी हैं तो उन्हें बातचीत के जरिए सुलझाया जा सकता है।  उन्होंने कहा कि अपनी ही सरकार के कामकाज पर सवाल खड़ा करने की उनकी मंशा नहीं है। उधर पंजाब कांग्रेस  के प्रभारी हरीश रावत पार्टी के भीतर कलह के बीच मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से मिलने के लिए राज्य सरकार के हेलिकॉप्टर से चंडीगढ़ पहुंचे हैं।

सुनील जाखड़ से उनके पंचकुला आवास पर मुलाकात के बाद सिद्धू ने कहा कि आलाकमान उनके संपर्क में है और जो भी मतभेद हैं उन्हें पार्टी में इन्टरनल बातचीत से सुलझा लिया जाएगा। ऐसी ख़बरें हैं कि नवजोत सिंह सिद्धू को जल्द ही पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया जा सकता है। इसके अलावा जालंधर से सांसद संतोष चौधरी और कैबिनेट मंत्री विजय इंद्र सिंगला को कार्यकारी अध्यक्ष का पद दिया जा सकता है। आज शाम तक कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू की मुलाक़ात कराकर मामले को सुलझा सकते हैं। सांसद संतोष चौधरी और कैबिनेट मंत्री विजय इंद्र सिंगला भी मोहाली के सिसवां स्थित कैप्टन अमरिंदर सिंह के फार्म हाउस पहुंच चुके हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here