महिलाओं को फ्री में बांटा गया ‘समाजवादी सरसों’ का तेल

0
540
'Samajwadi Mustard' oil distributed to women for free

काशिफ रिजवी। यूपी में 2022 में होने जा रहे विधानसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी ने कमर कस ली हैं। अयोध्या में बढ़ती महंगाई को लेकर समाजवादी पार्टी के दिव्यांग सपा नेता पंडित समरजीत ने ग्रामीण महिलाओं में समाजवादी सरसों का तेल निशुल्क वितरित किया। यही नहीं समाजवादी सरसो के तेल की बोतल पर सपा का स्टिकर लगाकर पार्टी की प्रमुख 3 घोषणाओं का भी जिक्र किया गया है। यही नहीं तेल के स्टीकर पर मुलायम सिंह यादव, पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व उनकी पत्नी डिंपल यादव की फोटो भी लगाई गई है।

दिव्यांग सपा नेता पंडित समरजीत ग्रामीण महिलाओं में आधे-आधे लीटर सरसों की तेल की बोतल वितरित कर रहे हैं। वितरण के साथ ही समाजवादी पार्टी की प्रमुख घोषणाओं का जिक्र भी कर रहे हैं। अयोध्या के दिव्यांग सपा नेता पंडित समरजीत ने ग्रामीण क्षेत्र के भरत कुंड पिपरी जलालपुर स्थित निषाद बस्ती में पहुंचकर एक दर्जन से अधिक महिलाओं को सरसों की तेल की बोतल दी। समाजवादी पार्टी की तीन प्रमुख घोषणाएं लिखी हुई है उसका जिक्र किया गया है, जिसमें 20 लाख युवाओं को रोजगार, हर घर में 300 यूनिट बिजली फ्री और एक करोड़ महिलाओं को 1500 रुपये समाजवादी पेंशन देने का जिक्र किया गया है।

इस बारे में दिव्यांग सपा नेता पंडित समरजीत ने बताया कि महंगाई इतनी बढ़ गई है कि गरीबों की थाली से भोजन गायब हो रहा है, इसीलिए ग्रामीण महिलाओं में सरसों का तेल वितरित किया गया। क्योंकि इस समय सरसों का तेल 190 रुपये प्रति लीटर बाजार में बिक रहा है। भाजपा पर आरोप लगाते हुए पंडित समरजीत ने कहा कि 2022 के विधानसभा के चुनाव में भाजपा की बुरी हार होगी। एक बार फिर समाजवादी पार्टी सरकार बनेगी और अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बनेंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here