अंतराष्ट्रीयRussia Ukraine War: अब शुरू होगा तीसरा विश्‍व युद्ध ? रूस ने...

Russia Ukraine War: अब शुरू होगा तीसरा विश्‍व युद्ध ? रूस ने दी ये चेतावनी

Russia Ukraine War Updates : रूस और यूक्रेन के बीच शुरू हुए जंग को दो महीने से ज्‍यादा हो गये हैं. इस बीच तीसरे विश्‍व युद्ध का खतरा दुनिया पर मंडरा रहा है. दरअसल एक बार फिर से रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने तीसरे विश्वयुद्ध की चेतावनी दे डाली है. लावरोव ने कहा है कि यूक्रेन के साथ शांति वार्ता में विराम नहीं लगेगा, लेकिन उन्होंने चेतावनी दी कि तीसरे विश्व युद्ध का खतरा “वास्तविक” है. रूसी विदेश मंत्री ने चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि पश्चिमी देश यूक्रेन को जो हथियार भेजने में लगे हुए हैं, वह रूस के सैन्य ठिकानों को निशाना बना सकते हैं जो तीसरे विश्व युद्ध का असल खतरा बनने के लिए काफी है.

विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने क्‍या कहा

रूसी समाचार एजेंसियों से बात करते हुए विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने शांति वार्ता को लेकर यूक्रेन के रुख को कटघरे में खड़ा किया. उन्होंने कहा कि गुडविल की अपनी कुछ सीमाएं होती हैं. लेकिन यदि यह पारस्परिक नहीं है, तो बातचीत सार्थक रूप नहीं ले सकती है. खैर, हम यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की द्वारा सौंपी गई टीम के साथ बातचीत को आगे ले जाएंगे. ये संपर्क आगे भी जारी रहेगा.

डोनबास को क्रीमिया से जोड़ने के फिराक में रूस, कीव से हटा पीछे

दो महीनों से रूस और यूक्रेन के बीच जारी जंग अब दूसरे दौर में प्रवेश कर रहा है. रूसी सेना कीव से पीछे हट रही है और अब उसका टारगेट पूर्वी यूक्रेन का डोनबास इलाका है. वह इस क्षेत्र पर कब्जा करके इसे क्रीमिया से जोड़ना चाहती है, जिस पर पहले ही 2014 में रूस कब्जा कर चुका है. दुनिया भर के विशेषज्ञों ने सोमवार को इसे लेकर चिंता जतायी. विशेषज्ञों के मुताबिक, अगर डोनबास पर रूस का कब्जा होता है, तो यह पूरी दुनिया के लिए चिंताजनक बात होगी. विशेषज्ञों का कहना है कि यूक्रेन को उसके सबसे उपजाऊ इलाके और प्रमुख निर्यात केंद्र से काटने से वैश्विक खाद्य निर्यात पर दीर्घकालिक प्रभाव पड़ेगा. रूस डोनबास में सैनिकों की संख्या बढ़ा रहा है और पुतिन मारियुपोल पर जीत का दावा कर चुके हैं.

यूरोपीय आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन ने सोमवार को कहा कि यूरोप यह सुनिश्चित करेगा कि यूक्रेन के खिलाफ रूस का अकारण और अनुचित हमला एक रणनीतिक विफलता साबित हो. उन्होंने कहा कि इस पर दुनिया की प्रतिक्रिया अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था और वैश्विक अर्थव्यवस्था का भविष्य तय करेगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में रायसीना संवाद में अपने संबोधन में लेयेन ने यह भी कहा कि यूक्रेन में जो हो रहा है उसका हिंद-प्रशांत क्षेत्र पर प्रभाव पड़ेगा.

संबंधित खबरें

प्रमुख खबरें

जरूर पढ़ें

वायरल खबरें