झोलाछाप डॉक्टर के इंजेक्शन लगाने से 6 साल के बच्चे की मौत,

0
630

कानपुर संवाददाता। उत्तर प्रदेश के भदोही जिले में शुक्रवार को एक कथित झोलाछाप डॉक्टर द्वारा गलत इंजेक्शन लगाने से छह साल के बच्चे की मौत का मामला सामने आया है। इस दौरान परिवार के लोगों ने बच्चे की मौत के मामले में झोलाछाप डॉक्टर पर गलत इंजेक्शन लगाने का आरोप लगाया है। पुलिस ने बताया कि इस मामले में कथित डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। ये घटना जिले के चौरी थाना इलाके की है।

इस मामले में थाना प्रभारी ने बताया कि पल्हैया गांव के रहने वाले सुरेंद्र कुमार विश्वकर्मा के बेटे शिवाय विश्वकर्मा (6) को शुक्रवार सुबह बुखार आने पर परिवार वाले उसे गांव में कथित डॉक्टर नंद लाल प्रजापति के क्लीनिक पर ले गए, जहां नंद लाल ने उसे एक इंजेक्शन लगाया, जिसे लगाते ही शिवाय तड़पने लगा। यह देखकर डॉक्टर नंद लाल मौके से भाग निकला। उन्होंने बताया परिवार वाले इसके बाद बच्‍चे को एक स्थानीय प्राइवेट हॉस्पिटल ले गए। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ चलाया जाएगा अभियान

वहीं, जिले के प्रभारी सीएमओ एस.पी. सिंह ने बताया कि डॉक्टर नंदलाल प्रजापति नाम से कोई डॉक्टर या क्लीनिक का रजिस्ट्रेशन नहीं है. उन्होंने कहा कि वह एक झोलाछाप डॉक्टर है। ऐसे डॉक्टरों के खिलाफ नए सिरे से अभियान चला कर उन्हें बंद कराया जाएगा। उनके मुताबिक जिले में सैकड़ों की संख्या में झोलाछाप डॉक्टरों के गांव में अवैध क्लीनिक चलाने की सूचना मिली है।

पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दर्ज किया मामला

थानाध्यक्ष ने बताया कि इस मामले में बच्चे के पिता की तहरीर पर आरोपी डॉक्टर नंदलाल प्रजापति के खिलाफ धारा 304 गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। साथ ही उसे उसके घर से गिरफ्तार भी कर लिया है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि मृत बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी भेज दिया गया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here